राजस्थान चुनाव चुनाव में बीजेपी व कांग्रेस में ‘IN’ और ‘OUT’ का...

राजस्थान चुनाव चुनाव में बीजेपी व कांग्रेस में ‘IN’ और ‘OUT’ का गेम जोरो पर !

11861
0
SHARE

जयपुर. भारत भूमि न्यूज़ (जोगेन्दर महर्षि): राजस्थान में विधानसभा चुनावों को लेकर सियासत अब अपने पूरे शबाव पर पहुंचने लग गई है. टिकट वितरण के आखिरी दौर में टिकटों से वंचित रहे दावेदारों का एक पाले से दूसरे पाले में जाने का क्रम बदस्तूर जारी है. इसी कड़ी में आज कांग्रेस के बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने हाथ का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया है. वहीं चार दिन पहले बीजेपी के तिजारा प्रत्याशी बाबा बालकनाथ की नामांकन रैली में गुरुद्वारों को लेकर विवादास्पद बयान देने वाले पार्टी के नेता संदीप दायमा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है. दायमा को बीजेपी ने निष्काषित कर दिया है.

धौलपुर जिले के बाड़ी विधायक कांग्रेस नेता गिर्राज सिंह मलिंगा ने रविवार को कांग्रेस पार्टी छोड़ दी है. वे अब भारतीय जनता पार्टी की नाव में सवार हो गए हैं. मलिंगा तीन बार बाड़ी से विधायक रहे हैं. उनको आज राजधानी जयपुर में बीजेपी मुख्यालय पर केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत और चुनाव प्रबंधन समिति संयोजक नारायण पंचारिया ने पार्टी की सदस्यता दिलाई. उनके साथ ही एडवोकेट रवि पचौरी, मुश्ताक अहमद खान, आप के यूथ विंग स्टेट प्रेसिडेंट अनुराग बराड़, कांग्रेस पदाधिकरी दीप सिंह कुशवाह, मांगीलाल और रामवरण ने भी बीजेपी ज्वॉइन कर ली.

मलिंगा को बाड़ी से उतार सकती है बीजेपी
इस मौके पर शेखावत ने कहा कि मलिंगा के पार्टी ज्वॉइन करने से बाड़ी इलाके में बीजेपी मजबूत होगी. वहीं विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने कहा कि उनको कांग्रेस में तंग किया गया. मारपीट के मामले में उन पर मुकदमा दर्ज कराया गया. बकौल मलिंगा उन्होंने कई बार सीएम से जांच बदलने के लिए कहा था लेकिन बदली नहीं गई. आपको बता दें कि बीजेपी ने 200 विधानसभा सीटों में से 197 पर प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं. लेकिन बाड़ी समेत तीन सीटों पर अभी तक प्रत्याशी की घोषणा नहीं की गई है. माना जा रहा है बीजेपी बाड़ी से मलिंगा को चुनाव मैदान में उतार सकती है.

विवादित बयान को लेकर दायमा को पार्टी ने किया बाहर
दूसरी तरफ बीजेपी ने तिजारा में सक्रिय पार्टी के नेता संदीप दायमा को निष्कासित कर दिया है. संदीप दायमा पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी से प्रत्याशी थी लेकिन वे चुनाव हार गए थे. बीजेपी ने इस बार तिजारा से अलवर सांसद बाबा बालकनाथ को चुनाव मैदान में उतारा है. चार दिन पहले बालकनाथ ने अपना नामांकन भरा था. इस मौके पर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी आए थे. इस दौरान आयोजित नामांकन रैली में संदीप दायमा ने सिख समुदाय के धार्मिक स्थल को लेकर विवादित बयान दे दिया था. उससे सिख समुदाय में आक्रोश फैल गया. हालांकि उसके बाद दायमा ने सिख समुदाय से माफी भी मांग ली थी और भिवाड़ी स्थित गुरुद्वारे में जाकर सेवा की थी. लेकिन पार्टी ने सिख समुदाय की नाराजगी को देखते हुए दायमा को चुनाव से पहले ही निष्कासित कर दिया.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY